एक मकान मालिक होने के नाते हम चिंतित रहते हैं कि हमारे घर में कौन रहेगा? कैसे रहेगा? वो हमारे घर का कैसे इस्तेमाल करेगा? और इस्तेमाल करके हमारे घर को किस हालत में छोड के जायेगा? इसके अलावा हमें ये भी चिंता सताती है कि क्या वो किराएदार बिल्डिंग के नियमों का पालन करेगा या नही? क्या वो अपना किराया टाइम पर देगा या नही? हमारे सामने और एक सवाल होता है  कि हम हमारा घर एक अकेले आदमी को किराये पर दे या एक परिवार को?

नीचे दिए हुए मुद्दे / पॉइंट आपको कुछ मदद कर सकते है|

 

 1) आपका घर कितना बड़ा है?

tiny apartment

Picture Courtesy – Business Insider

 

अगर आपका घर छोटा है या 1 बीएच के है तो अच्छा होगा कि आप बैचलर्स  को किराये पर घर दे| बैचलर्स को ज्यादा जगह की जरूरत नहीं होती इसलिए छोटे घर में या 1 रूम किचन में या फिर 1 बीएचके में वो आराम से रह सकते हैं| कुछ अकेले लोग स्टूडियो अपार्टमेंट या छोटे घरों को ढूंढते  हैं क्योंकि वो मेंटेन करने में आसान होते है| अक्सर नये शादीशुदा लोग या फिर ऐसे परिवार जिनमे बच्चे होते हैं उन्हें ज्यादा जगह की जरूरत होती है, उनके पास आमतौर पर बहुत सामान होता है, ज्यादा कपड़े होते हैं, किचन का बहुत सारा सामान होता है| ऐसे परिवार ज्यादातर छोटे घरों में रहना पसंद नहीं करते जब तक कि उनका बजट कम ना हो| अगर ३ बीएच है  जिसका किराया अधिक है तो बैचलर्स एक अच्छा विकल्प है क्युकी रेंट जितने लोग है उनमें बट जाता है| लेकिंग फॅमिली के लिए कभी कभी ये रेंट अधिक हो सकता है|

 

2) घर मे सुख सुविधा कितनी है ?

apartment security

अगर आपका घर बड़ी सोसाइटी में है तो आपके पास बहुत सारी सुविधा रहती हैं जो कि आप अपने किराएदार को दे सकते है| ऐसी बड़ी बड़ी सोसाइटी में जिम,स्विमिंग पूल,क्लब हाउसेस, सिक्योरिटी इस तरह की बहुत-सारी सुविधाएं मिलती है| जिनके परिवार मे बच्चे होते हे वो लोग ज्यादातर ऐसे ही घर पसंद करते हैं| जबकि बैचलर्स को ये सुविधाए ना हो तो भी चलता है| सेफ्टी फीचर्स जैसे  सीसीटीवी, सिक्योरिटी गार्ड्स ,फायर अलार्म्स इत्यादि ज्यादा पसंद किए जाते है खासकर की जिनके बड़े परिवार हो या जिनके परिवार में बच्चे हो|

बैचलर्स को बेसिक सुविधावो वाला घर हो तो भी चलता है क्योंकि वो अपना अधिकतम समय  काम करने में गुजारते है और उन्हें ये सारी सुख सुविधाएं  उपभोगने के लिए वक्त ही नहीं मिलता है| सिक्योरिटी सिंगल महिलाओं के लिए भी महत्वपूर्ण है जबकि पुरुषों को उसकी इतनी जरूरत नही हैं |

    3) घर में फर्नीचर कितना है ?

empty apartment without furniture

क्या आप का घर पूरा फर्निश्ड, सेमी फर्निश्ड या फिर अनफर्निश्ड है? नए शादीशुदा लोगोके अलावा ज्यादातर परिवारों के पास खुद का फर्नीचर होता है जो उन्होंने पिछले कुछ सालों में इकट्ठा किया हुआ होता है| अगर आप का घर  फर्निश्ड है तो इन परिवारों को उनका सामान रखने में दिक्कत हो सकती है| ऐसे हालात में आपको अपना फर्नीचर रखने के लिए अलग सा इंतज़ाम करना पड़ सकता है|

बैचलर्स और सिंगल लोग पूरे  फर्निश्ड घरों को पसंद करते हैं क्योंकि वो कम चीज़ो के साथ यात्रा

करते है| अगर आप का घर सेमी फर्निश्ड या फिर पूरा फर्निश्ड है तो बैचलर्स उसमे रहना पसंद कर सकते हैं|

   4) आपको किराया कितना अपेक्षित हैं? / आप कितने  किराये की उम्मीद रखते हैं?

collecting rent

आप अपने घर के लिए कितने किराय और डिपॉजिट की  उम्मीद रखते हैं? परिवार और बैचलर्स इन दोनों का  एक सीमित बजट होता है | परिवार वाले आपको ज्यादा किराया नहीं दे  सकते क्योंकि उनके घरों में एक या दो कमाने वाले होते हैं और उन पर निर्भर ज्यादा लोग उनके घर में रहते हैं | इसी वजह से वह डिपॉजिट की रकम भी ज्यादा नहीं दे सकत हैे|

वहां दूसरी ओर बैचलर्स को  यह फायदा रहता है कि वह अपने साथ  और रूममेट्स या फिर फ्लैटमेट्स रख सकते हैं जिससे उनका किराया बट जाता है | ऐसे हालात में उनको ज्यादा किराया देना भी बहुत मुश्किल नहीं होता| डिपॉजिट का भी ऐसाहि होता है|

   5) आप घर  कितने समय के लिए किराए पर देने वाले हैं?

bachelor

परिवार,खास करके जिनके घरों में बच्चे हैं वह अपना घर जल्दी जल्दी बदलना ज्यादा पसंद नहीं करते| वह ज्यादातर ऐसे घर ढूंढते हैं  जो उनके बच्चों की स्कूलों के नज़दीक हो| ऐसे परिवार अपने बच्चे ग्रेजुएट होने तक घर बदलने की तैयारी में नहीं होते| अगर आप अपना घर ज्यादा दिनों के लिए किराए पर देना चाहते हैं तो परिवार ही आपके लिए ज्यादा फ़ायदेमंद  रहेंगे|

बैचलर्स जो अपने परिवार के साथ नहीं रहते, वो  बहुत जल्दी अपना घर ,नौकरी और शहर बदल सकते हैं| नौकरी की वजह से बैचलर्स को नए शहर में जाना पड़ सकता है| नहीं तो वे  अपने शहर जाकर शादी करके वहीं बसना भी पसंद कर सकते हैं | इस हिसाब से बैचलर्स किराए के घर में ज्यादा दिनों के लिए रहने की संभावना परिवार के बदले कम है |

अगर आप अपना घर, थोड़े दिनों के लिए किराए पर देना चाहते हो तो बैचलर्स को घर देना एक उचित निर्णय हो सकता है |

याद रखिए की परिवार और बैचलर्स दोनों के कुछ फायदे और नुकसान है| पुराने ख्यालात जैसे कि बैचलर्स ज्यादा परेशानी देते हैं, परिवार घर अच्छा रखते हैं, इत्यादि,समय के हिसाब से गलत साबित हुए है | इसलिए आप अपना किराएदार चुनते समय  बहुत सावधानी बर्तीए और होशियारी से किराएदार  चुनिए| आप किराएदार चुनते समय उनके कुछ गवर्नमेंट पहचान पत्र भी देख सकते हो|

नोब्रोकर आपको अपने अनुसार किराएदार चुनने के लिए बहुत सारी मदद करता है, वह भी सिर्फ एक क्लिक से| अब आपके घर के लिए एक अच्छा किराएदार पाने की प्रक्रिया बहुत ही आसान और फ़ास्ट / तेज हो गई है|